​टंडवा क्षेत्र मे बढते प्रदुषण, सडक दुर्घटना मे शून्य प्रतिशत कमी लाने व सरकारी शिक्षको के प्रोन्नत्ति मामले को लेकर सांसद हुये गंभीर

अजित सिन्हा 

चतरा/झारखण्ड : एशिया महादेश की सबसे बडी महारत्न कोल कंपनी सीसीएल द्वारा संचालित टंडवा क्षेत्र मे मगध-आम्रपाली कोल परियोजना से होने वाली वायु प्रदुषण, खनिजो की ढुलाई मे लगे बडे वाहनो से होने वाली दुर्घटना एवं सरकारी शिक्षको के प्रोन्नत्ति मामले को लेकर सांसद सुनील सिंह गंभीर दिखे। 

इस बाबत श्री सिंह ने दूरभाष पर चतरा उपायुक्त संदीप सिंह से बात कर टंडवा क्षेत्र मे वायु-प्रदुषण नियंत्रित करने के उद्देश्य से अविलंब नियमित पानी का छिडकाव करवाने की बात कही है। वही दूसरी ओर कोयले की ढुलाई मे लगे बडे वाहनो से होने वाली दुर्घटना को लेकर सांसद काफी चिंतित नजर आए। उन्होने सडक दुर्घटना को रोकने के लिये उपायुक्त चतरा को कई आवश्यक सुझाव बताते हुये ठोस पहल करने की बात कही है। 

सरकारी शिक्षको के लंबित पडे प्रमोशन (प्रोन्नत्ति) को लेकर भी सांसद ने उपायुक्त से आग्रह किया कि वरीयता के आधार पर शिक्षको के प्रोन्नत्ति किये जाने के मामले को प्रशस्त करे। 

सांसद सुनील सिंह एवं उपायुक्त चतरा संदीप सिंह के बीच दूरभाष पर हुए बात की जानकारी सांसद प्रतिनिधि श्री राकेश झा ने पत्रकारो को दी। गौरतलब है, टंडवा क्षेत्र मे लगातार बढ रहे प्रदुषण, सड़क दुर्घटना मे शून्य प्रतिशत कमी लाने की शिकायत स्थानीय ग्रामीणो ने अपने लोकप्रिय सांसद से की थी जिसके आलोक मे श्री सिंह को यह कदम उठाना पड़ा।

Advertisements