बिजली जुड़ते ही 132 के बी ऐ का भूमिगत केबिल भ्रष्ट

कुमार रौशन

छतरपुर पलामू में हटिया ग्रिड से बिजली जुड़ते ही 132 के बी ऐ का भूमिगत केबिल भ्रष्ट हो गया, क्योंकि पहले केबिल की जांच नही की गयी थी कि केबल लोड वहन कर सकती या नहीं। स्थिति अब यह है कि उस केबील से बिजली पास करने पर, फीडर का वोल्टेज ड्राप हो जाता है। इस समस्या से स्थानीय एवं डाल्टनगंज के अधिकारीगण अवगत हैं। 

छत्तरपुर की आम जनता काफी उग्र हो चुकी है। उनका कहना है कि न तो कोई नेता इसकी संज्ञान ले रहे हैं और न ही अधिकारीगण। यहीं एक विधायक जनसंवाद का दफ्तर भी है, जो सिर्फ खानापूर्ति के सिवाय और कुछ भी नहीं। जिसमें महीने में शायद ही कभी एक दिन अधिकारीगण बैठते हों। विश्वस्त सूत्रों से पता चला है कि केबील की खरीदारी हो चुकी है परन्तु अभी तक डाल्टेनगंज नही आ सका है।

अब तो यहाँ की जनता मीडिया पर भी ऊँगली उठा रही है।जल्द सुनवाई नहीं की गयी तो जनता आक्रोशित हो सकती है। छत्तरपुर की जनता रघुवर सरकार से एवं स्थानीय विधायक से कार्यवाही की उम्मीद रखती है। पिछले दिनों छत्तरपुर में नगर विकास मंत्री जी के आगमन के दौरान जनता ने सवाल भी उठाये थे कि जहां हम एक तरफ डिजिटल इंडिया एवं नगर विकास की बात करते हैं वहीं छत्तरपुर का विकास बिजली नही रहने पर कैसे सम्भव है। शायद कोई छत्तरपुर की जनता का दुखदर्द सुन ले!

Advertisements