एडीबी ने एसएएसईसी कार्यक्रम में परिचालन योजना 2016-2025 हेतु 9 परियोजनाओं की मंजूरी 

एशियाई विकास बैंक (एडीबी) ने दक्षिण एशिया उप-क्षेत्रीय आर्थिक सहयोग (एसएएसईसी) कार्यक्रम की परिचालन योजना 2016-2025 के भाग के रूप में 2.42 अरब डॉलर की लागत से नौ परियोजनाओं को मंजूरी दे दी है। इन परियोजनाओं में एडीबी का वित्तपोषण 1.43 अरब डॉलर का होगा।

ये नौ परियोजनाएं पिछले 15 सालों की तुलना में महत्वपूर्ण वृद्धि दर्शाती हैं, जबकि अब तक मंजूरी दी गयी परियोजनाओं का वार्षिक औसत मूल्य केवल 500 मिलियन डॉलर था।

नौ परियोजनाओं में बांग्लादेश में दो रेल परियोजनाऐं जिनका मूल्य 890 करोड़ डॉलर है, भारत में 1.2 अरब डॉलर के कुल मूल्य के दो आर्थिक गलियारे पहल (एक परियोजना और कार्यक्रम ऋण) और एक पुल परियोजना, भूटान में 27 मिलियन डॉलर के व्यापार सुगमता और हवाई अड्डा परियोजनाएं और नेपाल में 302 मिलियन डॉलर की प्रमुख एसएएसईसी सड़क और ऊर्जा परियोजनाएं शामिल हैं।

ये सभी परियोजनाएं एसएएसईसी ओपी के साथ गठबंधन की हैं, जो सड़क और रेल संपर्कों के विकास की ओर बढ़ती हैं और जो पूर्व में व्यापारिक मार्गों से घिरी हैं।

पृष्ठभूमि:

दक्षिण एशिया उप-क्षेत्रीय आर्थिक सहयोग (एसएएसईसी) कार्यक्रम के छह सदस्‍य देशों बांग्‍लादेश, भूटान, भारत, मालदीव, नेपाल और श्रीलंका ने इस हफ्ते एसएएसईसी परिचालन योजना (ओपी) 2016-2025 जारी की। एसएएसईसी परिचालन योजना इसके सदस्‍य देशों के बीच आर्थिक सहयोग बढ़ाने के लिए इस कार्यक्रम की प्रथम व्‍यापक दीर्घकालिक योजना है।

वर्ष 2001 में स्‍थापित एसएएसईसी कार्यक्रम क्षेत्रीय समृद्धि को बढ़ावा देने वाली एक परियोजना आधारित भागीदारी है, जिसे सीमा पार कनेक्टिविटी को बेहतर कर, सदस्‍य देशों के बीच व्‍यापार को बढ़ावा देकर और क्षेत्रीय आर्थिक सहयोग को बढ़ाकर मूर्त रूप दिया जाएगा।

एशियाई विकास बैंक (एडीबी) एसएएसईसी कार्यक्रम का सचिवालय और मुख्‍य वित्‍तपोषक (फाइनेंसर) है। एसएएसईसी परिचालन योजना से अपेक्षाकृत उच्‍च स्‍तर पर क्षेत्रीय सहयोग सुनिश्चित होता है। योजना के तहत अगले दस वर्षों के दौरान न केवल एसएएसईसी के भीतर, बल्कि पूर्वी एवं दक्षिण-पूर्व एशिया के साथ भौतिक सम्‍पर्कों का और ज्‍यादा विस्‍तार किया जाएगा।

Advertisements