अमानत बराज की बाधाओं को करेंगे दूर: रघुवर

पलामू: अमानज बराज से निकलने वाले नहरों पर वन विभाग की आपत्तिओं को दूर करने की दिशा में सार्थक पहल की जाएगी। इसी तरह मंडल डैम पर गेट लगाने व सोन नदी के पानी से प्रमंडल के खेतों तक पानी पहुंचाने का काम किया जाएगा। यह बातें झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कही है। वे मंगलवार को मनातू के पदमा में आयोजित एक जनसभा को संबोधित कर रहे थे। कहा कि राज्य सरकार पानी के बूते ही पलायन को रोकने का काम कर रही है। इससे पहले मुख्यमंत्री ने अमर शहीद नीलाबंर-पीतांबर बंधुओं को नमन किया। कहा कि वे सत्ता के लिए नहीं बल्कि सेवा के लिए राजनीति में है। यही कारण था विभिन्न विचार धारा के बाद भी उन्होंने पांकी विधायक के प्रतिमा अनावरण के अनुरोध को सहर्ष स्वीकार कर लिया। क्योकि राजनीति में मत भिन्नता हो सकती है लेकिन मन भिन्नता का कोई स्थान नही है। मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य के प्राकृतिक संसाधनों का प्रयोग कर क्षेत्र में अकाल का स्थायी समाधान निकाला जा रहा है। इसके लिए पुराने तालाबों का जीर्णोद्धार सहित नए तालाब व डोभा का निर्माण कराया जा रहा है। इसी तरह उद्यमी सखी मंडल द्वारा निर्मित कम्बल, तौलिया, चादरों की सरकारी प्रतिष्ठानों के लिए खरीद की जाएगी। मुर्गी पालन के लिए चार लाख का ऋण दिया जाएगा। यहीं नहीं यहां से उत्पादित अंडा की आपूर्ति स्कूलों में की जाएगी। कार्यक्रम की अध्यक्षता पांकी विधायक देवेंद्र ¨सह व संचालन अनिल ¨सह ने किया।

Advertisements