​#osh_times: पंजाब के इप्टा कलाकारों ने शहीदों के याद में कई जगहों पर किया नुक्कड़ नाटक

मेदनीनगर। भगत सिंह राजगुरु और सुखदेव की याद में आयोजित शहादत समारोह के अंतर्गत  पंजाब इप्टा के कलाकारों ने कई जगहों पर नुक्कड़ नाटक और भगतसिंह पर आधारित कोरियोग्राफी के माध्यम से आम लोगों को भगत सिंह के बारे में बताया।इस कड़ी में जनकपुरी मंदिर, चैनपुर बाजार, कचहरी परिसर व स्टेशन के समीप कार्यक्रम का आयोजन किया गया। पंजाब के लांधड़ा से प्रगति कला केंद्र के दल नायक सोढ़ी राणा की टीम ने भगत सिंह पर आधारित कई दृश्यों का जीवन्त प्रस्तुति कर सब का मन मोह लिया । कलाकारों ने भगत सिंह पर आधारित कोरियोग्राफी फांसी और आजाद भारत में  आदमी की वर्तमान स्थिति पर आधारित नाटक तमाशा-ए-हिंदुस्तान प्रस्तुत किया । इस मौके पर शहादत समारोह समिति के शैलेंद्र कुमार ने कहा कि शहीदों के याद में होने वाला सालाना आयोजन आम जनता के लिए है । जिसमें तमाम तरह के लोगों को एकजुट कर हम शहीदों को विनम्र श्रद्धांजलि देते हैं साथ ही अपसंस्कृति के इस दौर में एक शुद्ध और स्वस्थ सांस्कृतिक परंपरा कि शुरुआत  है । उन्होंने बताया कि 23 मार्च को सांस्कृतिक संध्या के अलावे 24 मार्च को भी राष्ट्रीय स्तर कवयित्री सम्मेलन का आयोजन किया गया है । 23 मार्च की सुबह प्रभात फेरी निकाली जाएगी । लोगों से कार्यक्रम में आने की अपील की गई ।  मौके पर मृन्तुंजय शर्मा, राजन सिन्हा, विनीत प्रताप सिंह, शशि पांडे, अजीत ठाकुर, आलोक श्रीवास्तव, प्रेम प्रकाश, शब्बीर अहमद, मंटू वर्मा, सोनल सिंह, पंकज श्रीवास्तव, वंदना कुमारी, अमन चक्र समेत समिति के अन्य लोग अलग-अलग जगह पर मौजूद थे ।

Advertisements