मुखिया, पंचायत सेवक व रोजगार सेवक पर लगा जुर्माना

 

मेदिनीनगर। महात्मा गांधी नरेगा के जिला समन्वयक व उप विकास आयुक्त रविशंकर वर्मा ने हैदरनगर पूर्वी के मुखिया सहित संबंधित पंचायत सेवक व रोजगार सेवक पर एक-एक हजार रुपये का जुर्माना लगाने का निर्देश दिया है। प्रखंड विकास पदाधिकारी इस निर्देश का अनुपालन करेंगे। जानकारी के अनुसार नोनियाडीह पंचायत में डोभा निर्माण कार्य में जेसीबी के प्रयोग करने की शिकायत मिली थी। इसके अलोक में स्थानीय पंचायत प्रतिनिधियों के एक दल ने मामले की जांच की थी, साथ ही प्रथम ²ष्टया में आरोप को सही पाया था। जांच रिपोर्ट पर तत्काल कार्रवाई करते हुए एक-एक हजार का जुर्माना लगाया गया है। साथ ही सभी से स्पष्टीकरण तलब करते हुए पूछा गया है कि क्यों नहीं उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई जाए। डीडीसी ने जवाब से असंतुष्ट पाए जाने पर डोभा निर्माण की राशि भुगतान करने की स्थिति में राशि की वसूली की जाएगी। इसी तरह डीडीसी ने प्रखंड कार्यक्रम पदाधिकारी से भी स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने का निर्देश दिया है। बता दें कि मनरेगा की योजनाओं में मशीन का प्रयोग प्रतिबंधित है। इसे लेकर डीडीसी स्तर से पहले ही मशीन से काम किए जाने पर दोषी कर्मियों के खिलाफ कारवाई के साथ प्राथमिकी दर्ज करने संबंधी आदेश जारी किया गया था। जानकारी के अनुसार जिले के कई प्रखंडों में मनरेगा कार्यो में मशीन का प्रयोग करने संबंधी जांच की जा रही है।

Advertisements